Seventh-Pay-Commission
केंद्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने पत्रकारों को बताया कि केंद्रीय कर्मचारियों के भत्‍तों पर सातवें वेतन आयोग के सुझाव मंजूर कर लिए गए हैं. इससे सरकारी खजाने पर कुल 30,748.23 करोड़ का भार पड़ेगा. ये सिफारिशें एक जुलाई 2017 से लागू होंगी.

केंद्र सरकार ने बुधवार को अपने 48 लाख कर्मचारियों को सौगात देते हुए सातवें वेतन आयोग की अनुशंसाओं के मुताबिक बढ़े हुए भत्ते को मंजूरी दे दी। बढ़े हुए भत्ते 1 जुलाई 2017 से लागू होंगे और इससे राजकोष पर 30,748 करोड़ रुपये का सालाना बोझ पड़ेगा।

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में केंद्रीय कर्मियों के भत्ते में सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप बढ़ोतरी को मंजूरी दी गई। उन्होंने बताया कि वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने में 29,300 करोड़ रुपये सालाना का बोझ पड़ेगा। जबकि लवासा समिति की सिफारिशों के मुताबिक वेतन विसंगति दूर करने में 1,448 करोड़ रुपये अतिरिक्त खर्च होंगे। इस प्रकार सालाना राजकोष पर 30,748 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।

बता दें कि आयोग की सिफारिशों में भत्तों संबंधी विसंगति और विभिन्न विभागों की ओर से दर्ज की गई आपत्ति के बाद सरकार ने वित्त सचिव अशोक लवासा की अध्यक्षता में एक समिति गठित की थी। लवासा ने कुल 196 संशोधन प्रस्तावित किए थे, जिसे सरकार ने 34 संशोधनों के साथ स्वीकार कर लिया।

सेना का पूरा ख्याल 

सरकार ने सियाचिन जैसे अति दुर्गम इलाकों में तैनात जवानों के भतों को दो गुने से भी अधिक  कर दिया है। सैनिकों को सियाचिन भत्ते के रूप में हर महीने अब 14 हजार रुपये के बजाय 30 हजार रुपये मिलेंगे। वहीं अधिकारियों को इस मद में ही महीने 21 हजार के रुपये के मुकाबले 42,500 रुपये का भुगतान किया जाएगा। सैनिकों को अब राशन मनी भी नकद में दिया जाएगा।

एचआरए 1800 रुपये से कम नहीं 

– केंद्रीय कर्मियों को चाहे वे किसी भी श्रेणी के शहर में रहें उन्हें कम से कम 1800 रुपये मासिक की दर से आवास भत्ता (आवास)मिलेगा।
– टियर ए, बी, सी श्रेणी के शहरों में एचआरए नए वेतन मान का 24%,16%,8% के बराबर मिलेगा।
– 18000 रुपये तनख्वाह पाने वाले को एचआरए वेतन का क्रमश: 30,20, 10 फीसदी की दर से दिया जाएगा।
– 50 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में एचआरए मूल वेतन का 27% फीसदी होगा। फैसले से साढ़े सात लाख कर्मियों को सीधा लाभ होगा।

भविष्य में बढ़ोतरी का फार्मूला

– 50 फीसदी के बराबर डीए होने पर एचआरए मूल वेतन का क्रमश: 27,18,9 फीसदी होगा।
– 100 फीसदी डीए होने पर एचआरए का भुगतान क्रमश: 30,20,10 फीसदी की दर से किया जाएगा।

सेहत का पूरा ध्यान

– 1,000 रुपये प्रति माह एक मुश्त चिकित्सा भत्ता पेंशनभोगियों को,पहले यह राशि 500 रुपये थी।
– 4,500 रुपये के बजाय 6,750 रुपये 100 फीसदी विकलांग होने पर कांस्टेंट अटेंडेंस अलाउंस के रूप में मिलेगा।
– 7,200 रुपये प्रति माह नर्सिंग अलाउंस, पहले यह राशि मात्र 4,800 रुपये प्रतिमाह थी।
– 540 रुपये मिलेंगे ऑपरेशन थियेटर अलांउस के रूप में, करीब 180 रुपये की बढ़ोतरी
– 4,100 रुपये प्रतिमाह मिलेंगे 2,070 के मुकाबले अस्पताल मरीज देखरेख भत्ते के रूप में