Anil Kumble
Anil Kumble steps down as Indian cricket team's head coach

अनिल कुंबले ने टीम इंडिया के हेड कोच की पोस्ट छोड़ दी है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, कुंबले के कॉन्ट्रैक्ट का आज आखिरी दिन है और वो आगे कोच की पोस्ट पर रहना नहीं चाहते हैं। माना जा रहा है कि कुंबले ने इसी वजह से टीम के साथ वेस्ट इंडीज जाने की बजाय लंदन में रहने का फैसला किया। हालांकि, कुंबले ने टीम के साथ न जाने के पीछे एक मीटिंग का हवाला दिया। कुंबले ने कहा कि उन्हें 22 और 23 जून को लंदन में एक ICC मीटिंग अटैंड करनी है। 23 जून वेस्ट इंडीज में होने वाली 5 मैचों की वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया इंग्लैंड से ही वेस्ट इंडीज रवाना हो गई है।

वेस्ट इंडीज नहीं जाने की बात ने इसलिए चौंकाया…

एक ऑफिशियल ने न्यूज एजेंसी से कहा, “हास्यास्पद है। ICC मीटिंग की तारीखें महीनों पहले से पता हैं और वेस्ट इंडीज के दौरे के बारे में भी। आप का मतलब है कि अनिल को ये नहीं मालूम कि उन्हें ICC की मीटिंग और वेस्ट इंडीज के दौरे में से किसी एक चीज को चुनना होगा। हो सकता है कि वो आगे बने रहने में (कोच की पोस्ट पर) दिक्कत महसूस कर रहे हों।”

चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान रहा तनाव

– चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान प्रैक्टिस सेशन में कोहली और कुंबले के बीच बमुश्किल ही कोई बातचीत हुई। चीफ कोच अपना ज्यादातर समय बॉलर्स को प्रैक्टिस कराने में ही बिता रहे थे।
– BCCI में हर ओर ये कहा जा रहा था कि क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के साथ मीटिंग में कोहली ने ये साफ कर दिया था कि कोच के साथ उनके रिश्ते गतिरोध पर पहुंच गए हैं।
– बता दें कि CAC में सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण शामिल हैं। मीटिंग के दौरान CVC मेंबर्स के अलावा BCCI सेक्रेटरी अमिताभ चौधरी, CEO राहुल जौहरी और जनरल मैनेजर एमवी श्रीधर भी मौजूद थे।

कब कोच बने कुंबले, कार्यकाल कब बढ़ा

कुंबले 24 जून 2016 को कोच बने थे। उनका कार्यकाल चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 के अंत तक था। लेकिन 12 जून को उनका कार्यकाल वेस्ट इंडीज टूर तक के लिए बढ़ाया गया था।

कितने सक्सेसफुल कोच हैं कुंबले

– कुंबले के टर्म में इंडिया में खेले गए 13 टेस्ट में 10 में टीम को जीत मिली। 2 ड्रॉ हुए। एक में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार मिली। वेस्ट इंडीज में दो टेस्ट जीते थे। जबकि दो ड्रॉ रहे।
– कुंबले के कोच रहते अब तक टीम ने ओवरऑल 17 टेस्ट खेले हैं। इनमें से टीम इंडिया को 12 में जीत मिली है। 4 टेस्ट ड्रॉ हुए हैं। एक में हार मिली है। इस दौरान टीम इंडिया ने टेस्ट में नंबर वन रैंकिंग भी हासिल की।

वनडे में कुंबले की कोच के तौर पर परफॉर्मेंस

– न्यूजीलैंड को भारत में 3-2 से हराया। (5 मैचों की सीरीज)
– इंग्लैंड को 2-1 से हराया (3 मैचों की सीरीज)
– टीम इंडिया चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल तक पहुंची।