चैंपियंस ट्रॉफी में 4 जून को होने वाले पाकिस्तान के खिलाफ पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के खेलने को लेकर सवाल उठ रहे हैं। उनका प्लेइंग इलेवन में जगह मिलना अभी तय नहीं हुआ है। ऐसा इसलिए क्योंकि भारत के दूसरे प्रैक्टिस मैच में दिनेश कार्तिक ने शानदार फॉर्म का प्रदर्शन करते हुए 94 रन बनाए थे, इतना ही नहीं उन्होंने विकेट के पीछे 4 कैच भी पकड़े थे।

वहीं महेंद्र सिंह धोनी पिछले कुछ मैचों में अच्छी बल्लेबाजी करने के बावजूद उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ टीम जगह मिलने पर संशय लग रहा है। हालांकि इस बारे में अभी तक न कोई बयान आया है और न ही कोई आधिकारिक पुष्टि हुई है। दिनेश कार्तिक को टीम जगह मिलने पर लोगों ने यह कयास लगाने शुरू कर दिया है कि यदि कार्तिक खेलेंगे तो शायद धोनी को टीम में जगह न मिले।

2013 में कार्तिक ने किया था शानदार परफॉर्मेंस 
पिछली बार 2013 में हुए चैंपियंस ट्रॉफी में दिनेश कार्तिक पर धोनी ने भरोसा जताते हुए टीम में शामिल किया था। जिस पर कार्तिक खरा उतरते हुए कई अच्छी पारियां खेली थी। इस बार भी उन्हें मनीष पांडे के चोटिल होने के कारण चैंपियंस ट्राफी के लिए टीम में शामिल किये गया। दिनेश कार्तिक ने कहा कि बांग्लादेश के खिलाफ अभ्यास मैच में 94 रन की पारी खेलने से उनका आत्मविश्वास बढ़ा है और उन्हें लगता है कि अब वह इस टूर्नामेंट के लिये पूरी तरह से तैयार हैं और अंतिम एकादश में जगह बना सकते हैं।

धौनी-कार्तिक साथ खेले, यह भी संभव
बीमार होने के कारण युवराज सिंह चैंपियंस ट्रॉफी के दोनों ही प्रैक्टिस मैच नहीं खेल पाए थे, संभावना यह भी है कि उन्हें युवराज सिंह की जगह पर खिलाया जाए। पिछले चैंपियंस ट्राफी में भी महेंद्र सिंह धौनी और दिनेश कार्तिक ने एक साथ प्लेइंग इलेवन में थे, जिसमें धोनी ने कीपिंग की थी जबकि कार्तिक फील्डिंग कर रहे थे, लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ पिछले प्रैक्टिस मैच को देखते हुए यह भी हो सकता है कि इस बार शायद इसका उलट देखा जा सकता है।